नरेंद्र गोयनका बने परिधान निर्यात संवर्धन परिषद के अध्यक्ष

नरेंद्र कुमार गोयनका ने परिधान निर्यात संवर्धन परिषद (एईपीसी) के नए अध्यक्ष के रूप में कार्यभार ग्रहण कर लिया है। पद्मश्री डॉ ए. शक्तिवेल ने उन्हें पदभार सौंपा।

कार्यकारी समिति की हुई बैठक में परिषद का कार्यभार ग्रहण करते हुए श्री गोयनका ने कहा कि हम परिधान निर्यात में भारी वृद्धि को देख रहे हैं। हालिया निर्यात मांग की बढ़ती हुई यह सकारात्मक प्रवृत्ति तिमाही में और तेज हो जाएगी।

उन्होंने कहा कि दिसंबर 2021 में परिधान निर्यात 22% बढ़कर 1.46 अरब डॉलर हो गया, जो दिसंबर 2020 में 1.20 अरब डॉलर था। यह चालू वित्त वर्ष के पहले नौ महीनों में 11.13 अरब डॉलर रहा, जो अप्रैल-दिसंबर 2020 में 8.22 अरब डॉलर से 35 प्रतिशत ज्यादा है। इससे स्थिति और मजबूत हो रही है।

गोयनका ने कहा कि परिधान निर्यात में यह बड़ा बदलाव माननीय प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी के नेतृत्व वाली सरकार के अत्यधिक कुशल प्रबंधन और भारतीय परिधान निर्यातकों की उद्यमशीलता की भावना के कारण ही संभव हुआ है।

उन्होंने कहा कि वैश्विक आपूर्ति श्रृंखला और मांग में कई व्यवधानों के बावजूद, भारतीय परिधान उद्योग ने महामारी से पहले के विकास पथ पर धीरे-धीरे वापस आकर अपनी क्षमताओं और विशेषताओं का प्रदर्शन किया है। उन्होंने कहा कि इस वित्तीय वर्ष के अंत तक हम नए लक्ष्य तलाशेंगे।

गोयनका ने कहा कि वैश्विक मांग में धीरे-धीरे बढ़ोतरी और उद्योग द्वारा हाथ में अच्छे ऑर्डर मिलने के साथ ही परिधान निर्यात के वर्ष 2022 में बढ़ने की संभावना है। उन्होंने कहा कि हमें स्थिरता और अन्य सामाजिक अनुपालन सुनिश्चित करने के लिए उपयुक्त प्रबंध करते हुए ब्रांड इंडिया को बढ़ावा देने के प्रयासों पर दृढ़ता से ध्यान केंद्रित करने की आवश्यकता है।

गोयनका दो दशकों से अधिक समय से परिषद से जुड़े हुए हैं। एईपीसी के अध्यक्ष के रूप में कार्यभार संभालने से पहले वह भारतीय परिधान निर्यातकों के शीर्ष निकाय के उपाध्यक्ष थे।

एईपीसी कपड़ा मंत्रालय के अंतर्गत भारत में परिधान निर्यातकों का आधिकारिक निकाय है, जो भारतीय निर्यातकों के साथ-साथ आयातकों/अंतर्राष्ट्रीय खरीदारों को अमूल्य सहायता प्रदान करता है।

लोकप्रिय

NewsExpress