शनिवार, अक्टूबर 1, 2022

मधुमेह रोगियों के लिए किफायती सीटाग्लिप्टिन कम्बिनेसंस जनऔषधि केंद्रों में बेचे जाएंगे

सरकार ने मधुमेह की दवा सीटाग्लिप्टिन और इसके मिश्रण को शुक्रवार को बाजार में पेश किया है.

इसके 10 गोलियों के पत्ते की कीमत 60 रुपए रखे गए हैं. इस दवा की बिक्री देश भर में फैले जेनेरिक फार्मेसी स्टोर जन-औषधि केंद्रों पर होगी.

रसायन और उर्वरक मंत्रालय ने बयान में कहा कि भारतीय औषधि और चिकित्‍सा उपकरण ब्यूरो ने जन औषधि केंद्रों पर सीटाग्लिप्टिन और इसके नए संस्करणों को मुहैया करवाना शुरू कर दिया है.

सीटाग्लिप्टिन फॉस्फेट की 50 मिलीग्राम की दस गोलियों के पैकेट का अधिकतम खुदरा कीमत 60 रुपये है, और 100 मिलीग्राम की गोलियों का पैकेट 100 रुपए का मिलेगा. इस दवा के सभी प्रकर के दाम ब्रांडेड दवाओं से 60 से 70 फीसदी तक कम हैं वहीं, ब्रांडेड दवाओं की कीमत 160 रुपए से लेकर 258 रुपए तक है.

पीएमबीआई के मुख्य कार्यकारी अधिकारी रवि दधीच ने प्रधानमंत्री भारतीय जनऔषधि परियोजना के तहत सीटाग्लिप्टिन को लॉन्च किया, जो टाइप 2 मधुमेह वाले वयस्कों में ग्लाइसेमिक नियंत्रण में सुधार के लिए आहार और व्यायाम के सहायक के रूप में मरीजों को दिया जाता है.

प्रधानमंत्री भारतीय जनऔषधि परियोजना के तहत देश भर में 8,700 से ज्यादा प्रधानमंत्री भारतीय जनऔषधि केंद्र खोले गए हैं.

बयान में कहा गया है कि ये केंद्र गुणवत्ता वाली जेनेरिक दवाएं, सर्जिकल उपकरण, न्यूट्रास्यूटिकल्स और अन्य उत्पाद बेचते हैं. वर्तमान में, इन केंद्रों में 1,600 से ज्यादा दवाएं और 250 सर्जिकल उपकरण बिक्री के लिए उपलब्ध हैं.

लोकप्रिय

NewsExpress