बुधवार, अगस्त 17, 2022

कांग्रेस के बाद शिवसेना विधायक भी पहुँचे रिसोर्ट, बीजेपी ने विधायकों को किया नजरबंद

राज्‍यसभा की जिन 57 सीटों पर चुनाव होने थे, उनमें से 41 सीटों पर निर्विरोध निर्वाचन हो गया। 15 में से 11 राज्‍यों में सांसद निर्विरोध चुन लिए गए हैं। महाराष्‍ट्र की छह सीटों, राजस्‍थान और कर्नाटक की चार-चार और हरियाणा की दो सीटों पर अब 10 जून को मतदान होना है। साथ ही उसी दिन इन चुनाव का परिणाम भी आ जाएगा।

इन चुलाव के मद्देनज़र कांग्रेस की तर्ज पर अब भारतीय जनता पार्टी (bjp) ने भी अपने विधायकों को नज़रबंद कर दिया है। बता दें ट्रेनिंग कैंप के नाम पर अब भाजपा ने अपने विधायकों जयपुर के एक रिसॉर्ट में भेज दिया है। वहीं सोमवार दोपहर को पार्टी के सभी विधायकों को प्रदेश मुख्यालय में बुलाया गया। यहां पर पार्टी के वरिष्ठ नेताओं के साथ मीटिंग हुई।

बाद में सभी विधायकों को जामडोली स्थित फाइव स्टार होटल में भेजा गया। कई विधायक बसों के बजाय अपने निजी वाहनों से सीधे होटल पहुंचे। पार्टी के प्रदेश प्रवक्ता रामलाल शर्मा ने बताया कि पहले दिन करीब 64 विधायक प्रशिक्षण के लिए होटल में पहुंचे हैं। कांग्रेस की चिंता इस बात को लेकर है कि कहीं निर्दलीय विधायकों में भाजपा सेंध न लगा दे। वहीं, भाजपा की चिंता अपने ही विधायकों में टूट को लेकर चिंता है।

महाराष्ट्र में होने जा रहे राज्यसभा चुनावों में ‘हॉर्स ट्रेडिंग’ की आशंका को देखते हुए शिवसेना ने अपने सभी विधायकों को मुंबई के मलाड इलाके में स्थित एक रिजॉर्ट में ठहराया गया है। 2 बसों से करीब 50 विधायक मलाड के एक रिजॉर्ट में पहुंचे हैं। शिवसेना ने पार्टी के सभी विधायकों और कुछ निर्दलीय विधायकों को अपने मुंबई आने को कहा था।

राजस्थान में कांग्रेस ने तीन सीटें जीतने को लेकर अपने विधायकों की संख्या पूरी कर ली है। कांग्रेस को तीनों सीटें जीतने के लिए 123 वोट चाहिए। सोमवार तक उदयपुर के ताज अरावली रिजॉर्ट में 118 विधायक पहुंच चुके थे। इनमें कांग्रेस को समर्थन दे रहे निर्दलीय विधायक भी मौजूद हैं।

लोकप्रिय

NewsExpress