मणिपुर के मुख्यमंत्री श्री एन बीरेन सिंह ने इम्फाल में स्थानीय उद्यमियों के लिए खरीददार-विक्रेता बैठक के आयोजन पर एपीडा के प्रयासों की सराहना की

0
388

मणिपुर के मुख्यमंत्री एन बीरेन सिंह ने इम्फाल में स्थानीय उद्यमियों के लिए खरीदार विक्रेता बैठक का आयोजन करने पर एपीडा की भूमिका की सराहना की।

बैठक का उद्घाटन करते हुए श्री सिंह ने कृषि और प्रसंस्कृत खाद्य उत्पाद निर्यात विकास प्राधिकरण (एपीडा) द्वारा बैठक का आयोजन करने में राज्य सरकार का सहयोग करने की सराहना की। उन्होंने कहा कि इस तरह के कार्यक्रम स्थानीय उद्यमियों को संभावित खरीददारों के साथ संपर्क बनाने का एक मंच प्रदान करेंगे। जिससे उनके लिए मौके भी बनेंगे । यह सम्मेलन इसके अलावा सरकार के आत्मनिर्भरता के लक्ष्य को भी मजबूत करेगा।

बैठक का आयोजन मणिपुर खाद्य उद्योग निगम लिमिटेड, कपड़ा विभाग, वाणिज्य और उद्योग विभाग और मणिपुर सरकार द्वारा मिलकर किया गया ।

इस अवसर पर बोलते हुए, सिंह ने कहा कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के विजन के तहत राज्य सरकार मणिपुर को आत्मनिर्भर राज्य बनाने के लिए अथक प्रयास कर रही है। उन्होंने जोर देकर कहा कि राज्य की फल और सब्जियां देश के अन्य राज्यों की तुलना में अधिक पौष्टिक और विभिन्न स्वाद वाली हैं।

सिंह ने कहा कि मणिपुर सरकार ने हाल के वर्षों में काले चावल और अन्य बागवानी उत्पादों का निर्यात शुरू किया है। उन्होंने कहा कि पुणे में जैविक उत्पादों के लिए एक आउटलेट खोला गया है। और मणिपुर सरकार अन्य महानगरों में ऐसे आउटलेट खोलने की योजना बना रही है। इस तरह के कदम से न केवल किसानों और उद्यमियों को बेहतर लाभ मिलता है, बल्कि रोजगार के अवसर भी मिलते हैं।

सम्मेलन के उद्घाटन के दौरान अतिरिक्त मुख्य सचिव पी वैफी, आयुक्त आर के दिनेश, एपीडा की सहायक महा प्रबंधक सुनीता राय के अलावा अन्य अधिकारियों और उद्यमियों ने भाग लिया।