फेक न्यूज़ को लेकर झूठ फैला रहे थे IT सेल वाले, भास्कर ने दिखा दी औकात

0
677

भारत बंद को लेकर भाजपा समर्थकों और IT सेल के तरफ से कई झूठ फैलाए जा रहे हैं। आपको सोशल मीडिया पर कई ऐसी पोस्ट दिख जाएगी जिसे फैला कर किसान आंदोलन के बारे में झूठ फैलाया जा रहा है।

क्या किया जा रहा था दावा

इस तस्वीर को फैला कर दावा किया जा रहा था कि ये फोटो 8 दिसंबर को हुए भारत बंद की है। तस्वीर में एक सब्जी मंडी दिख रहा है। ऐसा नज़र आ रहा है कि सब्जियां रोड पर बिखरी हुई है। कई जगह सोशल मीडिया पर इस तस्वीर को लेकर अलग – अलग बात लिखी गई थी। लेकिन एक बात सबमे एकसमान थी कि तस्वीर भारत बंद के दौरान की है और लोगों ने बंद के नाम पर गुंडागर्दी की है। ऐसा कहा जा रहा था कि इस भारत बंद के दौरान उन लोगों ने जिन्होंने अपनी दुकाने बंद नहीं की उनके सामान को रोड पर फेक दिया गया।

क्या है सच्चाई

जब मीडिया ग्रुप दैनिक भास्कर ने इस तस्वीर की जाँच की तो सच्चाई सामने आई। भास्कर के अनुसार देश के कई राज्यों में 4 घंटे का चक्का जाम रहा लेकिन पुरे देश के किसी भी मीडिया रिपोर्ट्स में इस तरह की बातें सामने नहीं आई। मीडिया रिपोर्ट्स की माने तो ये बंद पूरी तरीके से शांतिपूर्ण रही।

भास्कर ने इसके बाद इस तस्वीर की रिवर्स चेक के जरिए तहकीकात की तो पता चला की ये तस्वीर कम से कम 9 महीने पुरानी है। पहले भी इस तस्वीर को कई जगह शेयर किया गया है।