आयकर विभाग ने हैदराबाद में छापे मारे

0
358
Income tax department

आयकर विभाग ने आंध्र प्रदेश और तेलंगाना के 21 जगहों पर 28जनवरी 2021 को एलुरु के कारोबारी समूह के विभिन्न प्रतिष्ठानों पर तलाशी और जब्ती का ऑपरेशन किया। समूह प्रमुख रुप से फिल्म फाइनेंसिंग, एक्वा कल्चर, रियल एस्टेट, फिल्मों के वितरण और कर्ज देने का बिजनेस करता है।

सर्च ऑपरेशन के दौरान, हाथ से लिखी गई किताबें,विभिन्न सौदों के समझौते और ऐसे दस्तावेज जब्त किए गए हैं, जिसमें अघोषित लेन-देन की जानकारी मिली है।समूह नकदी में बड़ी मात्रा में उधार दे रहा है और उसी के लिए नकदी में ब्याज वसूल रहा है। यह भी पाया गया है कि 13 करोड़ रुपये की कुल प्रविष्टियां क्लाउड डेटा से हटा दी गईं, लेकिन उन्हें विभाग द्वारा हासिल कर लिया गया है।आपरेशन के दौरान फिल्मों के वितरण और थिएटर से होने वाली आय को भी छुपाने का मामला सामने आया है। इसके अलावा समूह भूखंडों की बिक्री में पंजीकरण मूल्य से ज्यादा राशि नकदी के रूप में ले रहा है। इस बात की भी जानकारी सामने आई है।

ऑपरेशन के दौरान कुल 17.68 करोड़ रुपये की संपत्ति जब्त की गई है। जिसमें 14.26 करोड़ रुपये नकदी, 3.42 करोड़ रुपये के सोने के आभूषण, बुलियन और चांदी शामिल हैं। इस ऑपरेशन की सबसे बड़ी सफलता यह है कि एलुरु और राजमहेन्द्रवरम जैसे जगहों से बड़ी मात्रा में अवैध नकदी और सोनेका पता चला है। कुल मिलाकर, सर्चऑपरेशन के जरिए 161 करोड़ रुपये के अघोषित वित्तीय लेन-देन से संबंधित साक्ष्य का पता चला है। यह अघोषित लेन-देन साल 2016-17 से 2019-20 के दौरान किए गए हैं। जो कि कर योग्य लेन-देन हैं।