आईपीएल 2022: जाने किस गेंदबाज ने फेकी है IPL इतिहास की सबसे तेज गेंद

इंडियन प्रीमियर लीग में एक से बड़े एक रिकॅार्ड देखने को मिल ही जाते हैं। दरअसल क्रिकेट के इस छोटे फॅार्मेट में छक्के और चौके की बरसात आम बात है। इसी वजह से दर्शक इस फॅार्मेट को खूब पसंद भी करते हैं। खास बात ये है कि आईपीएल के हर सीजन में एक से बड़े एक रिकॅार्ड बनते और टूटते रहते हैं। इस सीजन यानी आईपीएल के 15वे सीजन में भी रिकॅार्डस बनने शुरु हो गए हैं। कुछ बल्लेबाज अपने तेज तरार बल्लेबाजी से चौकों और छक्को की बरसात कर रहे हैं। तो वहीं कुछ गेंदबाज अपनी स्पीड से बल्लेबाजों को डराने का भी काम कर रहे हैं।

आईपीएल के 48वें मैच में पंजाब के लियाम लिविंगस्टोन ने इस सत्र का सबसे लम्बा 117 मीटर का छक्का लगाया तो वहीं कल खेले गये 50वें मैच में उमरान मलिक ने इस सत्र की सबसे तेज गेंद फेंक डाली। उमरान मालिक ने दिल्ली कैपिटल्स के खिलाफ 20वें ओवर की चौथी गेंद 157kmph की रफ़्तार से डाली। जिसे देख कर सब दंग रह गए। बता दें कि ये इस सत्र की सबसे तेज गेंद थी। मजेदार बात ये है कि आईपीएल इतिहास की ये दूसरी सबसे तेज गेंद थी।

आईपीएल इतिहास में सबसे तेज गेंद डालने का रिकॉर्ड ऑस्ट्रेलियाई तेज गेंदबाज शॉन टेट के नाम है। जिन्होंने 2011 में राजस्थान रॉयल्स के तरफ से खेलते हुए डेल्ही डेयरडेविल्स (जो अब दिल्ली कैपिटल के नाम से जानी जाता है) के खिलाफ 157.7kmph की रफ़्तार से गेंद डाली थी। जिसे अभी तक कोई भी गेंदबाज तोड़ नहीं पाया है। उमरान मलिक भी बस कुछ पवाईंट से चुक गए।

इस बात में कोई दो राय नहीं है कि जिस तेजी से उमरान मालिक की रफ़्तार हर मैच में बढ़ती जा रही है। इससे इस बात का अनुमान लगाया जा सकता है कि वो दिन दूर नहीं जब वो आईपीएल इतिहास की सबसे तेज या वर्ल्ड की सबसे तेज गेंद फेंक डाले। बताते चले की वर्ल्ड की सबसे तेज गेंद डालने का रिकॉर्ड पाकिस्तान के प्रमुख गेंदबाज रहे शोएब अख्तर के नाम है। जिन्होंने 2002 में न्यूजीलैंड के खिलाफ टेस्ट मैच में 161kmph की रफ़्तार से गेंद फेंकी थी जोकि अभी तक वर्ल्ड रिकॉर्ड हैं।अब देखना दिलचस्प होगा कि आने वाले समय में और कौन – कौन से रिकॅार्ड बनते हैं।

लोकप्रिय

NewsExpress पर सुबह की बड़ी खबरें

➡लखनऊ- यूपी एमएलसी चुनाव में BJP की दिखी धाक,कानपुर स्नातक सीट पर बीजेपी के अरुण पाठक जीते,कानपुर शिक्षक MLC सीट पर निर्दलीय प्रत्याशी की...

निर्यात और विनिर्माण को बढ़ावा देने के लिए केंद्रीय बजट

केंद्रीय बजट 2023-24 में निर्यात को बढ़ावा देने और देश में विनिर्माण के त्वरित विकास में सहायता करने के लिए कई उपाय किए गए...

आर.के. सिंह ने 5-7 फरवरी, 2023 को बेंगलुरु में आयोजित होने वाली पहली एनर्जी ट्रांज़िशन वर्किंग ग्रुप मीटिंग के बारे में मीडिया को जानकारी...

केंद्रीय विद्युत और नवीन एवं नवीकरणीय ऊर्जा मंत्री आर. के. सिंह ने 5-7 फरवरी, 2023 को बेंगलुरू में आयोजित होने वाली पहली एनर्जी ट्रांज़िशन...

केंद्रीय भंडार उपभोक्ताओं को 29.50 रुपये प्रति किलोग्राम की दर से आटा उपलब्ध करा रहा है

खाद्य एवं सार्वजनिक वितरण विभाग के सचिव ने आज एक बैठक में खुला बाजार बिक्री योजना (ओएमएसएस) की प्रगति की समीक्षा की। उन्होंने विशेष...
NewsExpress