बुधवार, अगस्त 17, 2022

Maharashtra Crisis: एकनाथ शिंदे ने रखी ये शर्त!

महाराष्ट्र में शिवसेना, कांग्रेस और एनसीपी की महाविकास अघाड़ी सरकार संकट में घिरती नजर आ रही है। शिवसेना के मंत्री एकनाथ शिंदे ने बगावती रुख अख्तियार कर लिया है।

शिंदे कुछ बागी नेताओं के साथ गुजरात के सूरत के एक होटल में डेरा डाल रखा है।

महाराष्ट्र में उठे सियासी घमासान के बीच मुख्यमंत्री उद्धव ठाकरे ने अपने विश्वस्त एमएलए मिलिंद नार्वेकर को बागी एकनाथ शिंदे से मिलने सूरत भेजा था। उनके वहां सूरत पहुंचने पर उन्होंने शिंदे की मुख्यमंत्री उद्धव ठाकरे से फोन पर बात कराई

महाराष्ट्र के मुख्यमंत्री उद्धव ठाकरे ने बागी नेता एकनाथ शिंदे के साथ फोन पर बातें की। दोनों नेताओं के बीच 10 मिनट की बातचीत के बाद महाराष्ट्र के राजनीतिक घटनाक्रम में कई बदलाव आए।

एनडीटीवी ने सूत्रों के हवाले से बताया है कि बातचीत में शिंदे ने कहा, बीजेपी के साथ दोबारा गठबंधन कर राज्य में शासन करें।

इस पर शिवसेना प्रमुख ठाकरे ने कहा, अब कुछ लोग कह रहे हैं कि किसी को बीजेपी में शामिल होना चाहिए। लेकिन हम कैसे साथ हो सकते हैं? हमें पहले ही उसके साथ रहने का खामियाजा भुगतना पड़ा।अब हम उसके साथ क्यों जाए?

अगर एकनाथ शिंदे के खेमे के 22 विधायकों का समर्थन हासिल हो जाता है तो बीजेपी को खुद के 106 विधायकों के अलावा भी 17 अन्य विधायकों की जरूरत पड़ेगी।

दूसरी तरफ शिंदे के 22 विधायकों के समर्थन हटने से महाविकास अघाड़ी सरकार भी खतरे में पड़ जाएगी।

लोकप्रिय

NewsExpress