शुक्रवार, फ़रवरी 3, 2023

एनएचए एक लाइट एचएमआईएस को शुरू कर रहा है और इसके बीटा-परीक्षण में हिस्सा लेने के लिए स्वास्थ्य सेवा प्रदाताओं को आमंत्रित कर रहा है

राष्ट्रीय स्वास्थ्य प्राधिकरण (एनएचए) लाइट यानी कम साइज वाली, मजबूत और एबीडीएम- अनुरूप अस्पताल प्रबंधन सूचना प्रणाली (एचएमआईएस) का बीटा संस्करण जारी कर रहा है। इस प्रणाली की परिकल्पना स्वास्थ्य सेवा प्रदाताओं के लिए, विशेष रूप से निजी क्लीनिकों और छोटे स्वास्थ्य केंद्रों पर ध्यान केंद्रित करने के उद्देश्य से एक डिजिटल मंच प्रदान करने के लिए की गई है।

एनएचए, आयुष्मान भारत डिजिटल मिशन (एबीडीएम) को लागू करने के लिए नोडल एजेंसी है। इसका उद्देश्य भारत में डिजिटल स्वास्थ्य बुनियादी ढांचे के लिए आधार का विकास करना है। इस सोच के अनुरूप यह एक नया एचएमआईएस सॉल्यूशन (समाधान) विकसित करने के लिए कोविन मॉड्यूल की मजबूती का लाभ उठा रहा है। इससे छोटे क्लीनिकों के डिजिटलीकरण में तेजी आएगी और भारत में स्वास्थ्य सेवा प्रदाताओं की तलाश में सुधार होगा।

एचएमआईएस का बीटा संस्करण निम्नलिखित विशेषताएं प्रदान करता है:

एबीडीएम का अनुपालन – डॉक्टरों को अपने रोगियों के लिए एबीएचए (आयुष्मान भारत स्वास्थ्य खाता) बनाने और इसे प्राप्त करने की सुविधा देता है

सुविधा प्रबंधन – डॉक्टरों को एक ही खिड़की पर अपने कैलेंडर, अपॉइंटमेंट और रोगी विवरण प्रबंधित करने की सुविधा प्रदान करता है

डिजिटल सेवाएं – डॉक्टरों को पंजीकृत रोगियों के पिछले स्वास्थ्य रिकॉर्ड व पर्चे को देखने और वीडियो परामर्श प्रदान करने की अनुमति देता है

ई-प्रिस्क्रिप्शन सेवाएं – प्रिस्क्रिप्शन लेआउट को संशोधित/अनुकूलित करने के विकल्पों के साथ कई मापदंडों का उपयोग करके डिजिटल मानकीकृत पर्चे तैयार करना और साझा करना

हेल्थकेयर प्रदाता अब इस नए सॉल्यूशन का उपयोग कर सकते हैं, अपनी बहुमूल्य प्रतिक्रिया साझा कर सकते हैं और भारत के डिजिटल हेल्थकेयर इकोसिस्टम को आकार देने में अपनी एक भूमिका निभा सकते हैं। इसे और अधिक मजबूत बनाने के लिए स्वास्थ्य सेवा प्रदाताओं की प्रतिक्रिया को एबीडीएम- सक्षम सॉफ्टवेयर में शामिल किया जाएगा। एचएमआईएस https://docmitrabeta.abdm.gov.in/ पर उपलब्ध है। इसके अलावा सुविधाओं तक पहुंचने और एचएमआईएस का उपयोग करने के लिए एक उपयोगकर्ता पुस्तिका भी इस लिंक पर मौजूद है।

पूरे देश में स्वास्थ्य सेवा प्रदाताओं से एचएमआईएस को अपनाने और इस पर प्रतिक्रिया प्राप्त करने के लिए एनएचए 4 जनवरी, 2023 को एक वर्चुअल बीटा-परीक्षण कार्यशाला का आयोजन करेगा। इसमें स्वास्थ्य सेवा प्रदाताओं को अपने बहुमूल्य सुझाव देने और भारत की डिजिटल स्वास्थ्य क्रांति का हिस्सा बनने के लिए आमंत्रित किया जाएगा। इच्छुक स्वास्थ्य पेशेवर कार्यशाला के लिए – https://abdm.nha.gov.in/docmitra पर पंजीकरण कर सकते हैं।

लोकप्रिय

NewsExpress पर सुबह की बड़ी खबरें

➡लखनऊ- यूपी एमएलसी चुनाव में BJP की दिखी धाक,कानपुर स्नातक सीट पर बीजेपी के अरुण पाठक जीते,कानपुर शिक्षक MLC सीट पर निर्दलीय प्रत्याशी की...

निर्यात और विनिर्माण को बढ़ावा देने के लिए केंद्रीय बजट

केंद्रीय बजट 2023-24 में निर्यात को बढ़ावा देने और देश में विनिर्माण के त्वरित विकास में सहायता करने के लिए कई उपाय किए गए...

आर.के. सिंह ने 5-7 फरवरी, 2023 को बेंगलुरु में आयोजित होने वाली पहली एनर्जी ट्रांज़िशन वर्किंग ग्रुप मीटिंग के बारे में मीडिया को जानकारी...

केंद्रीय विद्युत और नवीन एवं नवीकरणीय ऊर्जा मंत्री आर. के. सिंह ने 5-7 फरवरी, 2023 को बेंगलुरू में आयोजित होने वाली पहली एनर्जी ट्रांज़िशन...

केंद्रीय भंडार उपभोक्ताओं को 29.50 रुपये प्रति किलोग्राम की दर से आटा उपलब्ध करा रहा है

खाद्य एवं सार्वजनिक वितरण विभाग के सचिव ने आज एक बैठक में खुला बाजार बिक्री योजना (ओएमएसएस) की प्रगति की समीक्षा की। उन्होंने विशेष...
NewsExpress