वसूली कांड में देशमुख की मुश्किलें बढ़ी, ED ने समन जारी कर पूछताछ के लिए बुलाया

वसूली कांड में नाम आने के बाद से ही महाराष्ट्र के पूर्व गृह मंत्री अनिल देशमुख के ऊपर से मुसीबत कम होने का नाम नहीं ले रही है। पहले घर पर छापामारी, उसके बाद निजी सचिव की गिरफ्तारी और अब उनसे पूछताछ की बारी है। प्रवर्तन निदेशालय (ईडी) ने अनिल देशमुख को समन जारी किया है और कथित 100 करोड़ रुपए के मनी लॉन्ड्रिंग केस में आज यानी शनिवार को पूछताछ के लिए बुलाया है। बता दें कि शुक्रवार को अनिल देशमुख के दो निजी सचिवों को भी ईडी ने गिरफ्तार किया।

अधिकारियों ने कहा कि 71 वर्षीय एनसीपी नेता अनिल देशमुख मुंबई के बलार्ड एस्टेट इलाके में स्थित प्रवर्तन निदेशालय (ईडी) कार्यालय में इस मामले के जांच अधिकारी के समक्ष पेश होने के लिए कहा गया है। देशमुख को प्रीवेंशन ऑफ मनी लॉनड्रिंग एक्ट यानी धन शोधन निवारण अधिनियम (पीएमएलए) के तहत समन जारी किया गया है और कहा गया है कि उन्हें सुबह 11 बजे तक पेश होना होगा।

इससे पहले प्रवर्तन निदेशालय (ईडी) ने 100 करोड़ रुपये की रिश्वत के आरोपों के सिलसिले में महाराष्ट्र के पूर्व गृहमंत्री अनिल देशमुख के खिलाफ दर्ज मनी लॉन्ड्रिंग मामले में उनके दो सहायकों को गिरफ्तार किया है। अधिकारियों ने बताया कि धन शोधन रोकथाम कानून (पीएमएलए) के प्रावधानों के तहत करीब नौ घंटे की पूछताछ के बाद देशमुख के निजी सचिव संजीव पलांडे और निजी सहायक कुंदन शिंदे को गिरफ्तार किया गया है। उन्होंने आरोप लगाया कि केंद्रीय जांच एजेंसी के मुंबई में बलार्ड इस्टेट स्थित कार्यालय में हुई पूछताछ के दौरान दोनों व्यक्ति सहयोग नहीं कर रहे थे।


झूटी निकली पत्रकार अतुल अग्रवाल की लूट की कहानी, उस रात महिला मित्र के घर कर रहे थे डिनर


Subscribe to our channels on- Facebook & Twitter& LinkedIn & WhatsApp

लोकप्रिय

NewsExpress