शनिवार, अक्टूबर 1, 2022

टिकैत पर स्याही फेंकने की घटना पर भड़के किसान, कहा यह सभी किसानों का अपमान

बेंगलुरू में किसान नेता राकेश टिकैत पर स्याही फेंके जाने की घटना से गुस्साए किसानों ने करनाल में मंगलवार को प्रदर्शन किया। विभिन्न किसान संगठनों के सदस्य प्रदर्शन में शामिल थे। प्रदर्शनकारी किसानों ने इस दौरान भाजपा सरकार के खिलाफ जमकर नारेबाजी की। किसानों के अनुसार टिकैत पर यह हमला कर्नाटक की भाजपा सरकार की शह पर हुआ है। इसके साथ दोषियों के खिलाफ किसानों ने कड़ी कार्रवाई की मांग की है।

दोषियों के खिलाफ हो कड़ी कार्रवाई
जिला प्रशासन को प्रदर्शन कर रहे किसानों ने प्रधानमंत्री मोदी और सीएम मनोहर लाल खट्टर को संबोधित ज्ञापन भी सौंपा है। इसमें मामले के दोषियों के खिलाफ कर्नाटक सरकार से कड़ी कार्रवाई की मांग की गई है। किसानों ने कहा कि यह स्याही सिर्फ टिकैत पर नहीं फेंकी गई है। बल्कि यह संपूर्ण किसान समुदाय का अपमान है। उन्होंने कहा कि भाजपा शासित राज्य में इस प्रकार का हमला यह दर्शाता है कि भाजपा सरकार किसान विरोधी है।

कार्रवाई नहीं तो होगा तीव्र विरोध
किसान नेता सुरेंदर सांगवान ने इस मामले को लेकर कहा कि पूरी घटना को लेकर संयुक्त किसान मोर्चे की एक बैठक बुलाई जाएगी। इस बैठक में यह तय किया जाएगा कि इस मामले को लेकर किस तरह का एक्शन लिया जाए। किसानों ने चेतावनी दी है कि अगर मामले में दोषियों के खिलाफ जल्द कार्रवाई नहीं हुई तो वह तीव्र विरोध करेंगे।

लोकप्रिय

NewsExpress