शनिवार, अक्टूबर 1, 2022

रक्षाबंधन कब है 2022 में शुभ मुहूर्त?

इस बार रक्षाबंधन की तिथि और नक्षत्र को लेकर कन्फ्यूजन बना हुआ है, क्योंकि सावन की पूर्णिमा दो दिन यानी 11 और 12 अगस्त को है।

इस पर देशभर के ज्योतिषियों का कहना है कि भद्रा खत्म होने के बाद पूर्णिमा और श्रवण नक्षत्र का योग, गुरुवार को ही बन रहा है। इसलिए 11 अगस्त की रात में ही राखी बांधना चाहिए। 12 अगस्त को पूर्णिमा तिथि 7.06 बजे तक रहेगी।

राखी बांधने की सही विधि

रक्षा बंधन के दिन बहन के राखी बंधवाते समय भाई को पूरब दिशा की ओर मुंह करके बैठना चाहिए।

साथ ही राखी बांधने के क्रम में बहन का मुख पश्चिम दिशा की ओर होना चाहिए. इसके बाद राखी की थाली में अक्षत, चंदन, रोली, घी का दीया रखें। सबसे पहले भाई के मस्तक पर रोली और अक्षत का टीका लगाएं।

इसके बाद उनकी आरती उतारें। फिर भाई की कलाई पर राखी बांधे और मिठाई से उनका मुह मीठा कराएं।

ध्यान रहे कि ऱाखी बांधते वक्त भाई के सिर खाली नहीं रहना चाहिए।

भाई को राखी बांधते समय इस मंत्र का करें जाप:

येन बद्धो बलि: राजा दानवेंद्रो महाबल:।
तेन त्वाम प्रतिबद्धनामि रक्षे माचल माचल:।
ॐ व्रतेन दीक्षामाप्नोति, दीक्षयाऽऽप्नोति दक्षिणाम् ।
दक्षिणा श्रद्धामाप्नोति, श्रद्धया सत्यमाप्यते ॥

लोकप्रिय

NewsExpress