वित्त वर्ष 2022-23 में जनवरी 2023 तक भारत सरकार के खातों की मासिक समीक्षा

0
370

जनवरी 2023 तक भारत सरकार के मासिक खाते को समेकित कर संबंधित रिपोर्ट प्रकाशित कर दी गई हैं। मुख्य बातें नीचे दी गई हैं-

भारत सरकार को जनवरी, 2023 तक 19,76,483 करोड़ रुपये (कुल प्राप्तियों के संबंधित संशोधित अनुमान (आरई) 2022-23 का 81.3 प्रतिशत) प्राप्त हुए हैं, जिनमें 16,88,710 करोड़ रुपये का कर राजस्व (केन्द्र को विशुद्ध रूप से प्राप्त), 2,30,939 करोड़ रुपये का गैर-कर राजस्व और 57,194 करोड़ की गैर-ऋण पूंजीगत प्राप्तियां शामिल हैं। गैर-ऋण पूंजीगत प्राप्तियों में 18,523 करोड़ के ऋण की वसूली और 38,671 करोड़ रुपये की विविध पूंजीगत प्राप्तियां शामिल हैं। इस अवधि तक भारत सरकार द्वारा करों में हिस्सेदारी के अंतरण के रूप में राज्य सरकारों को 6,67,770 करोड़ रुपये का अंतरण किया गया है जो पिछले वर्ष की तुलना में 1,22,378 करोड़ रुपये अधिक है।

भारत सरकार द्वारा किया गया कुल व्यय 31,67,648 करोड़ रुपये (संबंधित संशोधित अनुमान 2022-23 का 75.7 प्रतिशत) का है जिसमें से 25,97,756 करोड़ रुपये राजस्व खाते से संबंधित हैं और 5,69,892 करोड़ रुपये पूंजी खाते से संबंधित हैं। कुल राजस्व व्यय में से 7,38,658 करोड़ रुपये ब्याज भुगतान के मद में हैं और 3,99,400 करोड़ रुपये प्रमुख सब्सिडी के मद में हैं।